1. Home
  2. >
  3. Hindi Songs Lyrics
  4. >
  5. Chand Naraz Hai Abhi Dutt Song Lyrics

Chand Naraz Hai Abhi Dutt Song Lyrics

Read Chand Naraz Hai Abhi Dutt Song Lyrics In Hindi English On Android & IOS Smartphones. Read More Hindi Songs Lyrics For Free.

SongChand Naraz Hai
SingerAbhi Dutt
LyricistAzeem Shirazi
LabelBlive Music

Chand Naraz Hai Song Lyrics

Jis Subah Main Tujhe Ik Nazar Deikh Loo
Sara Din Fir Mera Achha Guzarta Hay
Har Kisi KE Liye Ye Dhadakta Nahe
Bas Tujhe Dekh Kar Dil Dhadakta Hay

Meri Har Baat Mein Zikar Tera Karon
Teri Tareef SE Chand Naraz Hay
Chand Naaraz Hay, Chand Naaraz Hay
Chand Naaraz Hay, Chand Naaraz Hay

Teri Parwah Karon Ya Karon Chand KI
Kya Karon Main Agar Chand Naraz Hay
Ishq Pehla Bi Tu Ishq Aakhir Be Tu
Tujhpe Dil AA Gaya Dil Dagabaaz Hay

Ek Feesad Be Wo Tere Jaisa Nahe
Bas Yahi Soch Kar Chand Naraz Hay
Chand Naaraz Hay, Chand Naaraz Hay
Chand Naaraz Hay, Chand Naaraz Hay

Haan Zaroorat SE Be Zyaada Teri Zaroorat Hay
Tuhi Dil KI Mere Pehli Mohabbat Hay
Ishq Zeyada SE Be Zeyada Tujhse Main Karta Hoon
Kuch NA Kuch Hay Wajah Teri Hi Harkat Hay

Dil Mera Pal Mei Har Faissla Kar Gaya
Bas Tujh ko Dekha Fir Tujh pe Mar Gaya
Dhadkano Ko Meri Dil Sunata Hay Jo
Tujh ko Maloom Hay Tu Wahi Saaj Hay

Chand Naaraz Hay, Chand Naaraz Hay
Dil Dagabaaz Hay, Chand Naaraz Hay
Teri Parwah Karon, Ya Karon Chand KI
Kya Karon Main Agar Chand Naraz Hay

Ishq Pehla Br Tu Ishq Aakhir Be Tu
Tujh pe Dil AA Gaya Dil Dagabaaz Hay
Ek Feesad Be Wo Tere Jaisa Nahe
Bas Yahi Soch Kar Chand Naraz Hay

Chand Naraz Hai Song Lyrics In Hindi

जिस सुबह मैं तुझे एक नज़र देख लूँ
सारा दिन फिर मेरा अच्छा गुज़रता है
हर किसी के लिये ये धड़कता नहीं
बस तुझे देख कर दिल धड़कता है

मेरी हर बात में ज़िक्र तेरा करूँ
तेरी तारीफ़ से चाँद नाराज़ है
चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है
चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है

तेरी परवाह करूँ या करूँ चाँद की
क्या करूँ मैं अगर चाँद नाराज़ है
इश्क़ पहला भी तू, इश्क़ आखर भी तू
तुझपे दिल आ गया दिल दगाबाज़ है

एक फीसद भी वो तेरे जैसा नहीं
बस यही सोच कर चाँद नाराज़ है
चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है
चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है

हाँ जरुरत से भी ज्यादा तेरी जरुरत है
तू ही दिल की मेरे पहली मोहब्बत है
इश्क़ ज्यादा से भी ज्यादा तुझसे मैं करता हूँ
कुछ ना कुछ है वजह तेरी ही हरकत है

दिल मेरा पल में हर फैसला कर गया
बस तुझको देखा फिर तुझपे मर गया
धड़कनो की मेरी दिल सुनाता है जो
तुझको मालूम है तू वही साज़ है

चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है
चाँद नाराज़ है, चाँद नाराज़ है
तेरी परवाह करूँ या करूँ चाँद की
क्या करूँ मैं अगर चाँद नाराज है

इश्क़ पहला भी तू, इश्क़ आखर भी तू
तुझपे दिल आ गया दिल दगाबाज़ है
एक फीसद भी वो तेरे जैसा नहीं
बस यही सोच कर चाँद नाराज़ है

Rate Lyrics
5/5
Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on telegram
Telegram
Share on whatsapp
WhatsApp

Related Songs Lyrics

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *